blogid : 3738 postid : 663045

कर्मठ, प्रतिबद्ध, शौकीन और रोमांचक मंडेला

Posted On: 6 Dec, 2013 Others,Special Days में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

दक्षिण अफ्रीका के पितामह नेल्सन मंडेला की कल शाम अस्पताल में मृत्यु हो गई. दक्षिण अफ्रीका के पहला अश्वेत राष्ट्रपति बनना मंडेला की एक बड़ी उपलब्धि रही लेकिन इससे पूर्व उन्होंने अफ्रीका की स्वतंत्रता के लिए कई यातनाएं झेलीं. रंगभेद विरोधी संघर्ष के कारण 27 वर्ष रॉबेन द्वीप पर कारागार में बिताने के दौरान उनसे कोयला खनिक का काम करवाया जाता था. 1990 में गोरी सरकार से हुए एक समझौते के बाद उन्होंने नए दक्षिण अफ्रीका का निर्माण किया. वर्ष 1993 में समानता और स्वतंत्रता के लिए किए गए संघर्ष के कारण मंडेला को नोबेल शांति पुरस्कार प्रदान किया गया. 1994 के चुनाव में वे दक्षिण अफ्रीका के प्रथम अश्वेत राष्ट्रपति चुने गए. यहां प्रस्तुत है इस महान शख्सियत के रोमांचक जीवन के अनछुए पहलुओं की एक झलक:


mandelaमंडेला के शौक

-मंडेला ने जेल में रहते हुए गार्डनिंग की थी. बाद में यह गार्डनिंग मंडेला का पहले नंबर का शौक बन गया.

-रंगीन बाटिक शर्ट्स उनकी पसंद थी जिसे मदीबा शर्ट भी कहा जाता है, जावा मूल का था.

-अमार्ह्यू (एक फर्मेंटेड पेय) में डूबा हुआ पका हुआ भेड़ का मांस मंडेला का सबसे पसंदीदा खाना बना रहा.


Read : नस्लभेद विरोध के वैश्विक प्रतीक – नेल्सन मंडेला


मंडेला पर बनी फिल्में

मंडेला के जीवन पर अब तक कई फिल्में बन चुकी हैं.

इनविक्टस: 2009 में बनी इनविक्टस मॉर्गैन फ्रीमन मंडेला के चरित्र से शुरू होती है. इस फिल्म में नेल्सन मंडेला को रग्बी टीम को प्रेरित कर 1994 में वर्ल्ड कप जीतकर दक्षिण अफ्रीका को एक करते हुए दिखाया गया है.

गुडबाय बफाना: 2007 में बनी इस फिल्म में एक गोरे गार्ड की कहानी है जिसे जेल में नेल्सन मंडेला पर नजर रखने का काम दिया जाता है. किस प्रकार नेल्सन मंडेला ने उस गार्ड का विश्व को देखने का नजरिया बदल दिया यह फिल्म इसी पर आधारित है.

मंडेला एंड डी क्लर्क: यह फिल्म 1997 में बनी थी. सिडनी पॉइटर ने इसमें नेल्सन मंडेला और मिशेल केन ने दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति एफ. डब्ल्यू डी. क्लर्क का रोल प्ले किया. दुनिया दोनों के रिश्तों को जानती है. फिल्म इसी पर आधारित थी.


स्टाइलिश रेबेल

मंडेला के पिता हेंड्री मंडेला अफ्रीकन मुखिया थे और उनकी चार पत्नियां थीं. 1918 में मंडेला का जन्म तीसरी पत्नी से हुआ था. 9 साल की उम्र में ही मंडेला के पिता के मौत हो गई और उन्होंने मंडेला को थेंबू के राजा जॉनगिंताबा दालिंदयेबो की देखरेख में छोड़ गए. 1940 में यूनिवर्सिटी कॉलेज में खराब खाने के खिलाफ आंदोलन करते हुए वे कॉलेज से निष्कासित कर दिए गए. इसके बाद जब उन्हें पता चला कि उनका विवाह किसी मोटी लड़की से तय कर दिया गया है जो पहले ही किसी और से प्यार करती है, तो वे जोहांसबर्ग भाग गए. जोहांसबर्ग में शुरुआत में उन्होंने एक खान में वाचमैन की नौकरी की. युवा दिनों में मंडेला को बॉक्सिंग बहुत पसंद था और वे 90 मिनट जिम में गुजारते थे. बाद में जब वे वकालत से जुड़े तो उन्हें तरतीब ढंग से कपड़े पहनना बहुत पसंद था.


मंडेला के कुछ विशेष उद्धरण

-“हमारे देश में हम पहले जेल जाते हैं, फिर राष्ट्रपति बनते हैं.”

-”बुद्धिमान की निशानी है कि वह पहले लोगों को कुछ करने के लिए मनाता है, फिर उन्हें ऐसा आभास दिला देता है कि वे मानने लगते हैं वह उनका ही विचार था.”

-”मैंने यही सीखा है कि साहस कभी भी डर के अभाव में नहीं आता, बल्कि यह इस पर जीत की स्थिति होती है.”

-”साहसी व्यक्ति वह नहीं है जिसने कभी डर का अनुभव नहीं किया, बल्कि वह है जिसने उस डर को जीता हो.”


Read: अफ्रीकी गांधी का निधन


मंडेला और भारत

मंडेला ने जवाहर लाल नेहरू के भाषणों से कई बातें लीं और उन्होंने इसे माना भी. मंडेला के शब्दों में, “मैंने नेहरू का नाम लिए बिना इनकी कई रचनाओं का प्रयोग किया जो वास्तव में बेवकूफीपूर्ण था. लेकिन जब आपके शब्दों की अधिकता होती है तो आप इसे करने को मजबूर हो जाते हैं”. 1967 में अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस के डिप्लोमैटिक स्टेटस को मान्यता देने वाला भारत पहला राष्ट्र था. नेल्सन मंडेला ने भी इसका मान रखा और जेल से छूटने के बाद उनकी पहली विदेश यात्रा भारत ही थी.


नेल्सन मंडेला एक फाइटर और कैदी के रूप में

मंडेला ने 27 साल जेल में गुजारे जिसमें 18 साल केवल रॉबेन आइलैंड पर बिताया. कैदी नंबर 46664 के रूप में उनके जेल का कमरा मात्र 8×8 फुट का था. इसी कमरे में कठोरतम कारावस के तौर पर मेहनकश काम करते हुए उन्हें कमरे के फर्श पर सोना था और एक बाल्टी में ही टॉयलेट भी जाना था.  जेल में रहने के दौरान ही उनकी माता और बेटे की मौत भी हो गई थी लेकिन उन्हें उनके फ्यूनरल में जाने की अनुमति नहीं दी गई थी. अमेरिकी राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगल ने एएनसी को एक आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया था.


पारिवारिक मंडेला

मंडेला ने तीन शादियां कीं. तीसरी शादी उन्होंने 80 साल की उम्र में की. कुल 6 बच्चों में उनकी चार बेटियां और 2 बेटे थे जिनमें दोनों बेटों और एक बेटी की पहले ही मृत्यु हो चुकी है. उन्होंने तीसरी शादी मोजांबिक के राष्ट्रपति समोरा मिशेल की विधवा पत्नी ग्राका मिशेल से किया.


मंडेला के अन्य नाम

रोलिह्लाला: अफ्रीकन भाषा इजिहोसा में यह मंडेला का जन्म नाम था जिसका शाब्दिक अर्थ है ‘मुश्किलें लाने वाला’.

नेल्सन:अफ्रीका मे तभी ब्रिटिश साम्राज्य था और सभी बच्चों का अंग्रेजी नाम होना आवश्यक नियम था. इसलिए मंडेला की स्कूल, टीचर मिस दिनगेन ने उन्हें यह नाम दिया था.

मादिबा: यह मडेला का गोत्र नाम था. 18वीं शताब्दी में ‘मतीबा’ थेंबू के मुखिया का नाम था.

ताता: ताता का अर्थ होता है ‘पिता’ जो दक्षिण अफ्रीका में मंडेला को आदर प्रकट करने के लिए दिया गया.

खूलू: इसका अर्थ होता है महान, दृढ़. इन्हें अक्सर खूलू कहा जाता था.


एक पॉप आइकन मंडेला

मंडेला आज एक पॉप आइकन बन चुके हैं. साउथ अफ्रीकन टीवी पर ‘बीइंग मंडेला’ नाम के रियल्टी टीवी शो में मंडेला की पोतियां जाजिवे द्लामिनी-मानावे और स्वाति द्लामिनी आती हैं. यहां उनका यह वृहत परिवार मंडेला के कपड़ों से लेकर शराब तक हर चीज मंडेला के नाम के साथ बेचता है. अमेरिकन संगीतकार स्टीव वंडर की ‘आई जस्ट कॉल्ड टू से आई लव यू’ दक्षिण अफ्रीका में बैन कर दी गई.


Read more:

कांग्रेस ने महसूस किया तूफान से पहले की आहट

एक गेंदबाज की ऐसी बल्लेबाजी नहीं देखी थी कभी



Tags:           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran