blogid : 3738 postid : 653928

अर्जुन रामपाल: ऐसे ही नहीं मर मिटती हैं लड़कियां इन पर

Posted On: 26 Nov, 2013 Others,Special Days में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बॉलीवुड में महानायक अमिताभ बच्चन और जाने-माने खलनायक अमरीश पुरी की आवाज का हर कोई कायल है लेकिन एक अभिनेता और है जिसकी न केवल आवाज पर हर कोई मर मिटता है बल्कि उसकी फिजीक को देखकर अच्छे-अच्छे अभिनेता सोचने पर मजबूर होते हैं. बॉलीवुड में पहले सलमान खान और अक्षय कुमार के सिक्स पैक एब्स के बारे में बाते होती थी लेकिन जब मॉडल से अभिनेता बने अर्जुन रामपाल (Arjun Rampal) की बॉलीवुड में एंट्री हुई तो कहा गया कि पहली बार सीनेमा को अच्छी फिजीक वाला एक्टर मिला है. हालांकि कि इस रेस में ऋतिक रोशन भी थे.


arjun rampalअर्जुन रामपाल (Arjun Rampal) का जीवन

26 नवंबर, 1972 को जन्में अर्जुन रामपाल के पिता का नाम अमरजीत रामपाल और मां का नाम ग्वेन रामपाल है. उनका जन्म तो जबलपुर, मध्यप्रदेश में हुआ था पर पढ़ाई तमिलनाडु के कोडाइकनाल इंटरनेशनल स्कूल में हुई थी. स्कूली पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने दिल्ली के हिन्दू कॉलेज से स्नातक की शिक्षा पूरी की. अभिनेत्री किम शर्मा उनके रिश्ते की बहन हैं.


Read: टीम में जगह पाना अब तो दूर की कौड़ी है


अर्जुन रामपाल ने पूर्व मिस इंडिया और सुपर मॉडल मेहर जेसिया से शादी की है. अर्जुन रामपाल के दो बच्चे हैं जिनके नाम महिका और मायरा हैं. आजकल उनकी एक कंपनी है जो देश में होने वाले बड़े-बड़े आयोजनों जैसे आईपीएल, फिल्म लांचिग पार्टी और एफ वन रेस के बाद की पार्टियों को आयोजित करती है. उनकी कंपनी का नाम “एलएपी” यानि लाऑंग एंड पार्टी है.


कैसी मिली पहली फिल्म

अपने कॅरियर के शुरुआती दिनों में अर्जुन रामपाल ऊटी में शेखर कपूर के साथ एक विज्ञापन शूट कर रहे थे. तब निर्देशक अशोक मेहता और शेखर ने अर्जुन को कहा कि उन्हें फिल्में करना चाहिए, लेकिन उसी दौरान अर्जुन को लंदन, न्यूयॉर्क में एड का कॉन्ट्रेक्ट मिला. अर्जुन मॉडलिंग को छोड़ना नहीं चाहते थे. यही वजह है कि जब उन्हें फिल्म ‘मोक्ष’ में काम करने का प्रस्ताव मिला तो इस प्रस्ताव पर सोचते-सोचते उन्हें एक साल लग गया. आखिरकार उन्होंने एक्टिंग को कॅरियर के रूप में चुना जबकि उन्होंने मॉडलिंग को पूरी तरह से रोक दिया.


Read: मां-बाप ने की थी आरुषि की हत्या


अर्जुन रामपाल का कॅरियर

अर्जुन रामपाल की दूसरी फिल्म “प्यार, इश्क और मोहब्बत” रिलीज हो गई. हालांकि दोनों ही फिल्में फ्लॉप रहीं पर इसमें अर्जुन रामपाल के काम की बहुत प्रशंसा की गई. अपनी शुरूआती फिल्मों में अच्छे अभिनय से अर्जुन ने स्वयं को एक बेहतरीन अभिनेता के रूप में साबित भी किया. हिन्दी फिल्मों के हीरो के सारे गुणों की मौजूदगी के बाद भी अर्जुन के फिल्मी कॅरियर को वैसी उंचाइयां नहीं मिल पाईं जिसके वे हकदार थे. अर्जुन रामपाल की सफल फिल्मों की संख्या बहुत कम है. “एक अजनबी” और “डॉन” ही ऐसी फिल्में हैं, जो अर्जुन की सफल फिल्मों में शुमार हो सकती हैं. इन फिल्मों को भी अर्जुन रामपाल की फिल्म नहीं कहा जा सकता है. एक अजनबी अमिताभ बच्चन और डॉन शाहरूख खान की फिल्म के रूप में अधिक जानी जाती है. आकर्षक हीरो की छवि से दूर अर्जुन आजकल अलग-अलग तरह की भूमिकाओं में देखे जा रहे हैं. जहां ओम शांति ओम में उन्होंने खलनायक की भूमिका निभायी है, वहीं, मेरेडियन और द लास्ट लियर जैसी फिल्मों में वे चरित्र भूमिकाओं में दिखे. हाल ही में वह फिल्म रा वन में  भी एक निगेटिव किरदार के रूप में नजर आए थे और उम्मीद है वह “डॉन 2” में भी दिखेंगे.

अर्जुन रामपाल ने साल 2010 में फिल्म “राजनीति” से भी सबको प्रभावित किया. इस फिल्म के लिए उन्हें आइफा अवार्ड से सम्मानित किया गया. उन्हें सर्वश्रेष्ठ सह अभिनेता की श्रेणी में यह पुरस्कार मिला था. इससे पहले उन्हें साल 2008 में फिल्म “रॉक ऑन” के लिए सर्वश्रेष्ठ सह अभिनेता के फिल्मफेयर अवार्ड से सम्मानित किया गया था. इसी फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सह-अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार भी दिया गया. उनकी हाल की फिल्मों में ‘हिरोइन’,’ इंकार’, ‘डी-डे’, ‘सत्याग्रह’ रही है.


Read More :

किस्मत के धनी अर्जुन रामपाल

आरुषि-हेमराज हत्याकांड: सीबीआई ने दूसरे पहलू पर ध्यान क्यों नहीं दिया?




Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran