blogid : 3738 postid : 3643

अरसद वारसी: मुन्ना और सर्किट एक-दूसरे के पूरक हैं

Posted On: 19 Apr, 2013 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

arshad warsiबहुत ही कम लोगों को मालूम है कि बॉलीवुड के सर्किट उर्फ अरशद वारसी एक अभिनेता के साथ-साथ अच्छे डांसर और बेहतरीन कोरियोग्राफर (नृत्य निर्देशक) भी हैं. उन्होंने कई फिल्मों में अपने डांस का जौहर दिखाकर यह साबित भी कर दिया है. एक हरफनमौला खिलाड़ी की तरह अरशद वारसी ने भी फिल्मों में कॉमेडी के अलावा गंभीर भूमिका भी निभाए हैं. वह बात अलग है कि उनके चाहने वालों ने उन्हें एक हास्य अभिनेता के तौर पर अधिक समझा है.


Read: इन्हें भारत के सबसे धनी व्यक्ति का खिताब हासिल है


कई लोग यह समझते हैं कि अरशद वारसी का कॅरियर कुछ सालों का है. उन्होंने हाल फिलहाल ही फिल्मी दुनिया में कदम रखा है. लेकिन हम बता दें कि अरशद उस समय के अभिनेता हैं जब बॉलीवुड के तीनों खान (आमिर, शाहरुख, सलमान) अपनी पहचान बनाने के लिए संघर्षरत थे. 1996 में आई फिल्म “तेरे मेरे सपने” से अरशद वारसी के अभिनय कॅरियर की शुरुआत हुई. यह फिल्म हिट रही लेकिन इसके बाद अरशद ने जितनी भी फिल्में कीं सभी फ्लॉप ही साबित हुईं.


अभी तक एक अभिनेता के रूप में अरशद वारसी को लोगों ने स्वीकार नहीं किया था. एक कलाकार की तरह वह फिल्मों में आते अपना काम पूरा करते और फिर चले जाते. उनके अभिनय में वह धार भी नही दिखाई देती थी जिसकी वजह से लोग उन्हें कई दिनों तक याद रख सकें. फिर आई 2003 में राजकुमार हिरानी द्वारा निर्देशित फिल्म मुन्नाभाई एमबीबीएस. यह फिल्म अरशद के लिए मील का पत्थर साबित हुई. इस फिल्म ने उन्हें बॉलीवुड में एक नया रास्ता दिखाया जिसकी वजह से आज वह फिल्मी दुनिया में टिके हुए हैं.


अब तक साधारण सी भूमिका में दिखने वाले अरशद वारसी फिल्म मुन्नाभाई एमबीबीएस के बाद बॉलीवुड के बेस्ट कॉमेडियन में से एक बन गए. इस फिल्म में लोगों ने जितना संजय दत्त के किरदार ‘मुन्ना भाई’ को पसंद किया उतना ही उन्होंने अरशद वारसी के किरदार सर्किट को स्वीकारने में कोई कसर नहीं छोड़ी. इन फिल्म में वह भले ही एक सपोर्टिंग एक्टर की भूमिका में थे लेकिन उनके किरदार के बिना कोई यह नहीं सोच सकता कि मुन्नाभाई एमबीबीएस फिल्म बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा सकती थी.


Read: आईपीएल में हैट्रिक का इतिहास


यह फिल्म लोगों को इतना पसंद आया कि वह ‘मुन्ना’ और ‘सर्किट’ के किरदार को दोबारा पर्दे पर देखना चाहते थे. इसी बात को ध्यान में रखते हुए राजकुमार हिरानी ने 2006 में ‘लगे रहो मुन्नाभाई’ बनाई. इस फिल्म ने भी फिल्मी पर्दे पर काफी धमाल मचाया. इस फिल्म तक आते-आते अरशद वारसी की पहचान एक ऐसे अभिनेता के तौर पर बन गई थी जो चुलबुले कॉमेडी की वजह से फिल्म को हिट करा देता था. मुन्नाभाई सीरीज में काम करने के बाद अरशद वारसी को एक कॉमेडियन अभिनेता के तौर पर फिल्मों में काम मिलने लगा. उनकी बेहतरीन फिल्मों में सलाम नमस्ते, गोलमाल सीरीज, काबुल एक्सप्रेस, धमाल, दन दना दन गोल और इश्किया जैसी फिल्में शामिल हैं.


हाल ही में उनकी फिल्म जॉली एलएलबी भी रिलीज हुई. इन फिल्म ने भी बॉक्स ऑफिस पर बहुत ही बेहतरीन कलेक्शन किया. खबर है कि आजकल अरशद वारसी निर्देशक राजकुमार हिरानी के साथ तीसरी बार काम करने को लेकर बेहद ही उत्साहित हैं. राजकुमार हिरानी ने उन्हें अपने निर्देशन में बनने वाली आमिर खान अभिनीत फिल्म ‘पीके’ में एक बेहद महत्वपूर्ण किरदार निभाने के लिए साइन किया है.


लगातार सफल होने के बावजूद एक अभिनेता के तौर पर अरशद वारसी के पास वह सब कुछ है जिसे एक आम दर्शक अपने पसंदीदा स्टार में देखना चाहता है. इसके बावजूद भी अरशद वारसी को बॉलीवुड में वह स्टार का तमगा हासिल नहीं हुआ जिसके लिए वह सालों से प्रयासरत हैं.


Read More:

जीरो से हीरो बना सर्किट

अरशद वारसी (Arshad Warsi’s Biography)


Tags: arshad warsi,  arshad warsi in hindi, film actor arshad warsi, arshad warsi new movie, arshad warsi biography, arshad warsi film, circuit, अरसद वारसी, अरसद, सर्किट.




Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

2023 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran