blogid : 3738 postid : 2942

Ganesh Chaturthi:जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा......

Posted On: 19 Sep, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

गणेश जी की आरती (Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi)में कहा जाता है कि अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया, बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया इसलिए हर कार्य को शुरू करने से पहले गणेश जी (Ganesh Ji)का नाम लिया जाता है. गणेश जी (Ganesh Ji)का हर रूप बड़ा ही सुन्दर और प्यारा होता है. गणेश जी (Ganesh Ji)के बाल रूप में समझदारी के कारण ही गणेश जी (Ganesh Ji)को दुख हरता, पालन करता कहा जाता है.


Read:Ganesh Chaturthi Special


ganesh ji aartiजो भी व्यक्ति गणेश जी की आरती (Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi)को पूरे विश्वास के साथ पढ़ता है वो हर दुख से दूर हो जाता है और उसे वरदान में गणेश जी (Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi)निरोगी-काया का वरदान देते हैं.


श्री गणेश जी की आरती (Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi)

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा .

माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा ॥


जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा ॥

एक दंत दयावंत, चार भुजाधारी .

माथे पे सिंदूर सोहे, मूसे की सवारी ॥

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा ॥

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया .

बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया ॥

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा ॥

हार चढ़ै, फूल चढ़ै और चढ़ै मेवा .

लड्डुअन को भोग लगे, संत करे सेवा ॥

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा ॥

दीनन की लाज राखो, शंभु सुतवारी .

कामना को पूर्ण करो, जग बलिहारी ॥

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा ॥


Read: Ganesh Ji Katha In Hindi


Tags:Ganesh Ji Ki Aarti In Hindi, Ganesh Ji Ki aarti,   Ganesh Chaturthi Special, Ganesh Gi Aarti, Ganesh Chaturthi 2012, Ganesh Vandana, Ganesh Aarti, Ganesh Ji Katha In Hindi




Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

278 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran