blogid : 3738 postid : 2860

Rakesh Roshan: अभिनेता से लेकर पिता तक का सफर

Posted On: 5 Sep, 2012 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

rakesh roshanकभी कहानी लिखना कभी अभिनय करना तो कभी निर्देशन करना और कभी-कभी सारे काम एक साथ करना यह बहुमुखी प्रतिभा बॉलिवुड जगत में बहुत कम लोगों के पास होती है. ऐसे लोग हमेशा अपनी मेहनत से किस्मत की नई कहानी लिखते हैं. ऐसे ही एक अभिनेता-निर्देशक-निर्माता और लेखक हैं राकेश रोशन. राकेश रोशन(Rakesh Roshan )ने कभी अभिनय में हाथ आजमाया पर काम नहीं बना सो फिल्मी दुनिया से जुड़े अन्य हिस्सों पर भी काम शुरू कर दिया. आज राकेश रोशन की गिनती बॉलिवुड के सफल निर्देशक-निर्माता के रूप में होती है.


राकेश रोशन(Rakesh Roshan ) की सफलता का सबसे बड़ा राज है उनका बहुमुखी होना. उन्होंने अपनी फिल्मों में कभी अभिनेता तो कभी विलेन का किरदार निभाया तो वहीं दूसरी तरह जब जरूरत हुई फिल्मों में अभिनय को छोड़ कहानी लेखन और निर्देशक की भूमिका भी निभाई. यही वजह है कि सफलता उनसे ज्यादा दिनों तक दूर नहीं रहती. इसके अलावा उनकी एक अन्य खूबी है अपने बेटे ऋतिक रोशन को ब्रेक देना और उन्हें अपनी फिल्मों में कास्ट करना. जहां बॉलिवुड के अधिकतर स्टार पुत्र सफलता के लिए तरस रहे हैं वहीं ऋतिक रोशन की नैया को खुद उनके पिता ने सफलता के आसमान में पहुंचाया है.


Read:Hit & Fit Hrithik Roshan



राकेश रोशन की प्रोफाइल (Rakesh Roshan profile in Hindi)

राकेश रोशन (Rakesh Roshan )का जन्म 06 सितंबर, 1949 को मुंबई में हुआ था. वह बॉलिवुड संगीत निर्देशक रोशन के बेटे हैं. रोशन के बड़े बेटे राजेश रोशन भी बॉलिवुड से ही जुड़े हैं. राकेश रोशन के बेटे ऋतिक रोशन (Rakesh Roshan and Hrithik Roshan)आज बॉलिवुड के सबसे प्रसिद्ध अभिनेताओं में से एक हैं.


rakesh roshan profileराकेश रोशन का कॅरियर(Rakesh Roshan filmography)

राकेश रोशन(Rakesh Roshan ) ने अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत 1970 की फिल्म ‘कहानी घर घर की’ से की थी. अपने एक्टिंग कॅरियर में उन्होंने 60 से ज्यादा फिल्मों में काम किया जिसमें ‘पराया धन’, ‘जख्मी’, ‘खानदान’, ‘हमारी बहू अल्का’, ‘महागुरू’ जैसी फिल्में शामिल हैं. उन्होंने अपने एक्टिंग कॅरियर में पॉजिटिव और निगेटिव दोनों तरह के किरदार निभाए हैं.

राकेश रोशन ने 1980 में अपना प्रोडक्शन हाउस खोला जिसका नाम रखा “फिल्मक्राफ्ट” और फिल्म “आप की दीवानी” बनाई. फिल्म “खुदगर्ज” (Khudgarz) के साथ उन्होंने निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखा. इसके अलावा उन्होंने “किशन कन्हैया”, “करण-अर्जुन” जैसी फिल्में भी बनाईं.


साल 2000 में उन्होंने अपने बेटे ऋतिक रोशन को फिल्म “कहो ना प्यार है” के साथ बॉलिवुड में लांच किया. फिल्म सुपर-डुपर हिट रही और पिता-पुत्र की इस जोड़ी ने बॉक्स-ऑफिस पर अपना जादू बिखेरना शुरू कर दिया. इसके बाद राकेश रोशन ने ऋतिक रोशन को लेकर “कोई मिल गया” और “क्रिश” जैसी फिल्में बनाईं जो ब्लॉकबस्टर फिल्में साबित हुईं. इन फिल्मों ने ना सिर्फ कई अवार्ड जीते बल्कि बॉक्स ऑफिस पर भी जमकर कमाई की.


माना जाता है कि राकेश रोशन(Rakesh Roshan ) अपनी सभी फिल्मों का नाम “क” से रखते हैं जिसे वह फिल्म के लिए शुभ मानते हैं. ऐसा वह अंक-ज्योतिष की वजह से करते हैं. आगे भी राकेश रोशन अपनी फिल्मों में अपने बेटे और “क” अक्षर को जगह देते दिखेंगे.


Please post your comments: आपको राकेश रोशन की कौन सी फिल्मे अच्छी लगती है ?


Tags: राकेश रोशन, Rakesh Roshan, Rakesh Roshan profile in Hindi, Rakesh Roshan biography, Rakesh Roshan movies, Rakesh Roshan family, Rakesh Roshan married, Rakesh Roshan and Hrithik Roshan,ऋतिक रोशन,Rakesh Roshan filmography



Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran