blogid : 3738 postid : 2816

Madhur Bhandarkar: कैसेट बेचने से सपने बेचने तक का सफर

Posted On: 25 Aug, 2012 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Madhur Bhandarkar Profile in Hindi

बॉलिवुड की दुनिया में ऐसे कई शख्स हैं जिनकी अपनी कहानी भी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है. ऐसे कई सितारे और शख्सियते हैं जिन्होंने अपनी जिंदगी को शून्य से शुरू कर शिखर तक पहुंचाया. ऐसे ही एक सितारे हैं मधुर भंडारकर. मधुर भंडारकर आज बॉलिवुड में किसी पहचान के मोहताज नहीं लेकिन वीडियो कैसेट बेचने से लेकर सपने बेचने तक का उनका सफर बेहद दिलचस्प है. कल इनका जन्मदिन है तो चलिए जानते हैं इनके बारे में.


Read: AARKSHAN MOVIE


मधुर भंडारकर को चांदनी बार, कारपोरेट, पेज 3 और ट्रैफिक सिग्नल जैसी फिल्मों के माध्यम से समाज के बेदर्द और कड़वे सच उघाड़ने के लिए जाना जाता है. उनकी फिल्में सीमित बजट में संवेदनशील तरीके से मुद्दे को उठाती हैं.


मधुर भंडारकर ने सबसे पहले “चांदनी बार” से ख्याति प्राप्त की. हालांकि इसके बाद उनकी कुछ फिल्में असफल रहीं लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी.


Mahdur BHandarkar Madhur Bhandarkar’s Heroine

इन दिनों वह “हीरोइन” बनाने में व्यस्त हैं जो बॉलिवुड अभिनेत्रियों के जीवन पर आधारित है. हीरोइन मधुर का ड्रीम प्रोजेक्ट है. यह फिल्म अब अपने अंतिम पडाव पर है और जल्द ही सिनेमाघरों में प्रदर्शित हो जाएगी. इस फिल्म में अभिनय कर रही हैं करीना कपूर.


Read: कपूर खानदान की चहेती गुड़िया


Madhur Bhandarkar वीडियो कैसेट बेचने से लेकर सपने बेचने तक का सफर

मधुर भंडारकर का जन्म 26 अगस्त, 1968 को हुआ था. उन्होंने प्रारंभिक शिक्षा को बीच में ही छोड़कर पिता के साथ काम करना शुरू कर दिया. उन्होंने पहले वीडियो कैसेट बेचने का काम किया जिसके कारण ही उनकी मुलाकात बड़े-बड़े निर्देशकों से हो पाई. इस बेहतरीन निर्देशक को देखकर क्या आप सोच सकते हैं कि इन्होंने फिल्म बनाने की कोई तकनीकी शिक्षा नहीं ली. फिल्म बनाना और निर्देशन करना इन्होंने फिल्में देख-देख कर सीखा है.



साल 1995 में राम गोपाल वर्मा की रंगीला में उन्होंने सबसे पहले कैमरे के सामने काम किया. इस फिल्म में उन्होंने एक छोटा-सा किरदार भी निभाया. इसके बाद उन्होंने निर्देशन के क्षेत्र में हाथ आजमाया पर इसमें वह असफल रहे. उनकी फिल्म “त्रिशक्ति” एक फ्लॉप साबित हुई लेकिन इसके बाद आई “चांदनी बार”.


Madhur Bhandarkar’s Chandani Bar

साल 2001 में आई “चांदनी बार” ने मधुर भंडारकर की जिंदगी ही बदल ली. फैंटेसी एवं रियलिटी के तत्वों को जोड़कर मधुर भंडारकर ने सिनेमा की नई भाषा गढ़ी है.


Madhur Bhandarkar’s Best Movies

चांदनी बार के बाद सत्ता व आन को देखकर लगा कि मधुर ग्लैमर की चकाचौंध में खो रहे हैं लेकिन इसके बाद उन्होंने पेज-3, कॉरपोरेट, ट्रैफिक सिग्नल जैसी फिल्में बनाई जिसने मधुर भंडारकर की काबीलियत को सबके सामने लाकर रख दिया. पेज-3 जहां पार्टी कल्चर और उसमें शामिल होने वाले लोगों पर आधारित थी तो वहीं कॉरपोरेट में बिजनेस व‌र्ल्ड के अप्स एंड डाउन्स हैं. ट्रैफिक सिग्नल ब्लैक कॉमेडी व ह्यूमर थी.


साल 2008 में मधुर भंडारकर ने फैशन जैसी कामयाब फिल्म बनाई. हाल ही में वह एक और फिल्म “हीरोइन” बना रहे हैं जो ग्लैमर वर्ल्ड से जुड़ी है. हां, इस बीच मधुर ने अपनी प्रयोग करने वाले निर्देशक की छवि को तोड़ते हुए “दिल तो बच्चा है जी” जैसी फिल्में भी बनाई.


Madhur Bhandarkar in rape case

अभिनेत्री प्रीति जैन ने जुलाई 2004 में वर्सोवा पुलिस थाने में एक शिकायत दर्ज कराई  थी जिसमें उन्होंने आरोप लगाया गया था कि वर्ष 1999 से वर्ष 2004 के बीच भंडारकर ने फिल्मों में अभिनेत्री बनाने का झांसा देकर उसका 16 बार बलात्कार किया. लेकिन बलात्कार के सबूत ना मिलने की सूरत में अदालत ने मधुर भंडारकर को राहत दे दी.


बॉलिवुड में जब कभी असली जिंदगी को पर्दे पर उतारने की कला की तारीफ होगी तो मधुर भंडारकर की फिल्मों का जिक्र जरूर होगा. हकीकत को पर्दे पर उतारने की काबीलियत ही मधुर भंडारकर को सबसे अलग करती है.


Read: Madhur Bhandarkar’s Heroine


Post Your Comments on: मधुर भंडारकर की समाज को आइना दिखाने वाली फिल्मों के बारे में आपकी क्या राय है?


Tag: Madhur Bhandarkar, Madhur Bhandarkar Profile in Hindi, Madhur Bhandarkar Profile, Madhur Bhandarkar movies filmography, Madhur Bhandarkar in rape case, Madhur Bhandarkar’s Chandni Bar & Fashion



Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

410 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran