blogid : 3738 postid : 2596

परेश रावल: अभिनय की चलती-फिरती क्लास

Posted On: 30 May, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

हिन्दी सिनेमा जगत में ऐसे कई वरिष्ठ अभिनेता हैं जिनसे नए कलाकार हमेशा कुछ सीखते हैं और जिनके अभिनय को देख दर्शक भी कहते हैं “वाह गुरु मान गए.” नाना पाटेकर, ओम पुरी, अनुपम खेर जैसे कलाकार जिन्होंने थियेटर से अपना सफर शुरू कर सिनेमा के पर्दे तक की दुनिया देखी है उन्होंने इस कला जगत को कई हसीन लम्हें दिए हैं. इन्हीं बेहतरीन कलाकारों की श्रेणी में शामिल हैं अभिनेता परेश रावल जिन्हें अक्सर आप हास्य कलाकार की भूमिका में देखते हैं, लेकिन अगर व्यापक निगाहों से देखा जाए तो परेश रावल ना सिर्फ हास्य भूमिकाओं में फिट होते हैं बल्कि उनमें गंभीर भूमिकाओं में भी जान फूंकने की क्षमता है.


paresh-rawalParesha Rawal’ Biography

कभी इंजीनियर बनने का सपना लिए मायानगरी में आने वाले परेश रावल आज हिन्दी सिनेमा के सफलतम कलाकारों में गिने जाते हैं. हालांकि निर्देशकों ने उनकी क्षमता को हमेशा कम ही आंका और उन्हें सह कलाकार और चरित्र कलाकार की भूमिका में ही रखा. यही वजह है कि परेश रावल एक बेहतरीन कलाकार होने के बाद भी फिल्म इंडस्ट्री में वह स्थान नहीं ले पाए जिसके वह हकदार थे. लेकिन चलिए इस बेहतरीन अदाकार के जन्मदिन पर उनकी जिंदगी पर एक निगाह डालें और जानें कैसे एक इंजीनियर की चाह लिए व्यक्ति ने सिनेमा जगत में एक बेहतरीन कॉमेडियन का स्थान पाया.


30 मई, 1950 को अहमदाबाद में जन्मे परेश रावल  ने 22 वर्ष की आयु में पढ़ाई पूरी करके सिविल इंजीनियर के रूप में काम करना शुरू किया. इसके लिए वह अहमदाबाद से मुंबई आए. परेश रावल को एक्टिंग और कला का भी शौक था, जिसे उन्होंने थियेटर में दिखाया. शुरुआती समय में जब लोगों ने उनके काम को देखा तो उन्हें सलाह दी कि वह अपना कॅरियर फिल्मों में ही बनाएं, उसके बाद परेश ने भी फिल्मों की तरफ ध्यान देना शुरू किया.


paresh_rawal-1-650x700-2008-12-22Paresh Rawal’s Career

परेश रावल के फिल्मी सफर की शुरुआत 1984 में फिल्म ‘होली’ के साथ हुई थी. 90 के दशक में अधिकतर फिल्मों में उन्होंने खलनायक और सहायक अभिनेता की भूमिका अदा की और 2000 के बाद वे अधिकांश फिल्मों में कॉमेडी रोल कर रहे हैं.


अपने फिल्मी सफर में जहां उन्होंने एक तरफ सरदार, हेराफेरी, फिर हेराफेरी, गरम मसाला, मालामाल वीकली और वेलकम जैसी मसाला फिल्मों में जानदार अभिनय किया तो वहीं तमन्ना, वो छोकरी, सर जैसी फिल्मों में भी उनका अभिनय शानदार रहा है.


Success Story of Paresh Rawal

परेश रावल को 1994 में “वो छोकरी” और “सर” के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था. इसके साथ ही परेश रावल को अब तक तीन फिल्मफेयर अवार्ड दिए जा चुके हैं. साल 1993 में फिल्म ‘सर’, 2000 में फिल्म ‘हेराफेरी’ और 2002 में फिल्म ‘आवारा पागल दीवाना’ के लिए भी उन्हें सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्म फेयर पुरस्कार दिया गया. साल 1995 में प्रदर्शित फिल्म ‘राजा’ के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का स्टार स्क्रीन पुरस्कार भी दिया गया.


Upcoming movies of Paresh Rawal

जल्द ही परेश रावल आपको खिलाड़ी 786, मालामाल वीकली 2 जैसी फिल्मों में हास्य भूमिका में गुदगुदाते हुए नजर आएंगे. लेकिन इन सब के बीच यह भी उम्मीद है कि जल्द ही कोई ऐसी फिल्म भी आए जो उस परेश रावल को दर्शकों के सामने रखे जिसे लोगों ने फिल्म “तमन्ना” में देखा था.


Visit Regularly to read More about celebrities and their life




Tags:                                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Leatrice के द्वारा
June 11, 2016

great post, very informative. I’m wondering why the other experts of this sector do not understand this. You should continue your writing. I’m confident, you have a great re2&resd#8a17; base already!


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran