blogid : 3738 postid : 735

बॉबी से पटियाला हाउस का सफर : डिंपल कपाडिया

Posted On: 8 Jun, 2011 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

बॉलिवुड में एक धारणा काफी लंबे अर्से से अभिनेत्रियों को दुल्हन के लिबाज में सजने से रोकती रही है और वह है शादी के बाद कॅरियर का अंत. ऐसी कई अभिनेत्रियां हैं जो अपने शुरुआती दौर में काफी सफल रहीं और उनमें प्रतिभा की भी कमी नहीं थी पर हालातों के आगे और शादी के बंधन में बंधने की वजह से उन्होंने अपने कॅरियर से मुंह मोड़ लिया. ऐसी ही एक अभिनेत्री हैं डिंपल कपाड़िया.


Dimple_Kapadiaफिल्म ‘बॉबी’ से अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत करने वाली डिंपल (Dimple Kapadia) ने अपनी पहली ही फिल्म से जबरदस्त लोकप्रियता हासिल की, पर वह इस लोकप्रियता को लंबे समय तक कायम ना रख सकीं और उस वक्त के सुपरस्टार राजेश खन्ना के साथ शादी करने के बाद फिल्मों से किनारा कर लिया.


चुन्नीभाई कपाड़िया (Chunnibhai Kapadia) की बेटी डिंपल कपाड़िया (Dimple Kapadia) का जन्म 8 जून, 1957 को हुआ था. बचपन से ही डिंपल को फिल्मों का बहुत शौक था. और उनका यह शौक 16 साल की उम्र में ही पूरा हो गया जब राजकपूर (Raj Kapoor) ने अपनी फिल्म “बॉबी” (Movie : Bobby) के लिए एक नए चेहरे की तलाश के रुप में डिंपल को सलेक्ट किया.


1973 की ‘बॉबी’ (Bobby) में डिंपल ने एक टीन एज लड़की का रोल निभाया जिसे दर्शकों ने खूब सराहा. दरअसल यह फिल्म बिंदास लोगों और युवाओं को ध्यान में रखकर बनाई गई थी. फिल्म में उनकी और ऋषि कपूर (Rishi Kapoor) की जोड़ी भी दर्शकों को खूब भाई.


बॉबी की सफलता के बाद डिंपल कपाड़िया के पास कई फिल्मों के प्रस्ताव आए पर राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) के विवाह के प्रस्ताव के आगे डिंपल को सब छोटे लगे और डिंपल ने राजेश खन्ना के साथ विवाह कर फिल्में ना करने का फैसला किया.


dimpleलेकिन डिंपल और राजेश खन्ना (Dimple Kapadia and Rajesh Khanna) का साथ ज्यादा लंबा ना चल सका और वर्ष 1984 में वह राजेश खन्ना को छोड़कर अपनी बेटी ट्विंकल खन्ना (Twinkle Khanna,) और रिंकी खन्ना (Rinky Khanna) के साथ अलग रहने लगीं.


1984 के बाद डिंपल ने दुबारा फिल्मों में काम करना शुरु किया. “सागर”( Film Saagar) के साथ अपने फिल्मी कॅरियर की दूसरी पारी की शुरुआत करने वाली डिंपल ने इसके बाद “जांबाज”, “ज़ख्मी औरत” और “’रुदाली’” जैसी फिल्मों मे काम किया. हाल ही में डिंपल कपाडिया ने एक बार फिर ऋषि कपूर के साथ “पटियाला हाउस” (Patiala House) में काम किया है.


डिंपल कपाड़िया की “बॉबी” और “जांबाज” (Janbaaz) बेहद सफल फिल्में रही हैं और दोनों ही फिल्मों में डिंपल ने बिंदास बाला का रोल निभाया है. लेकिन साथ ही 1994 की “क्रांतिवीर” (Movie : Krantiveer) की कलम वाली बाई को भी कोई नहीं भूल सकता.


कौन-कौन से पुरस्कार मिले ?

डिंपल कपाड़िया को अब तक तीन बार फिल्मफेयर पुरस्कार (Filmfare Awards) दिया जा चुका है. “बॉबी” के लिए उन्हें पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (Filmfare Best Actress Award) का फिल्म फेयर पुरस्कार दिया गया. इसके 1985 में प्रदर्शित फिल्म ‘सागर’ के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री और 1994 में प्रदर्शित फिल्म ‘क्रांतिवीर’ के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री (Filmfare Best Supporting Actress Award) का पुरस्कार दिया गया. साथ ही “रुदाली” के लिए भी उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार (National Film Awards for Best Actress) मिल चुका है.


फिल्मों के साथ डिंपल सामाजिक कार्यों में भी समान रुचि रखती हैं. उनकी बेटी ट्विंकल खन्ना भी हिन्दी फिल्मों की सफल अभिनेत्री हैं.


Filmography of Dimple Kapadia : डिंपल कपाडिया की प्रमुख फिल्में


“अर्जुन”, “अल्ला रक्खा”, “इंसाफ”, “राम लखन”, “बीस साल बाद”, “प्रहार”, “अजूबा”, “नरसिम्हा”, “गर्दिश”, “क्रांतिवीर”, “मृत्युदाता”, “दिल चाहता है”, “बीइंग सायरस”, “फिर कभी”,“पटियाला हाउस” आदि.




Tags:                               

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

256 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran