blogid : 3738 postid : 207

वैलेंटाइन डे – प्यार, खुशी और अहसासों का दिन

Posted On: 14 Feb, 2011 Others,Special Days में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आज 14 फरवरी है. प्यार, स्नेह और रोमानियत का दिन. यूं तो प्यार और प्यार की भावनाएं दर्शाने के लिए किसी खास दिन का होना जरुरी नहीं है लेकिन इतिहास के कुछ ऐसे घटनाक्रमों की वजह से आज के दिन को स्पेशली प्यार का इजहार करने के लिए बनाया गया है. हर दिन को अपने दिल की बात कहने के लिए काफी मशक्कत और हौसले की जरुरत होती है और आज का यह खूबसूरत दिन प्रेमियों को यह हसीन मौका देता है.


valentine dayवैलेंटाइन डे आज एक ग्लोबल फेस्टिवल बन गया है. और बने भी क्यों न जबकि इस दुनिया को प्रेम की जरुरत है और जो त्यौहार हमें आपस में प्रेम रखना सिखाए वह तो और भी जरुरी होता है. यह त्यौहार 14 फरवरी को हर देश में अलग-अलग अंदाज में मनाया जाता है. खासकर पश्चिमी देशों में तो इस दिन का एक अलग ही अंदाज और शवाब होता है. और पश्चिम ही क्या अब तो दुनिया के हर हिस्से में इसकी अच्छी खासी धूम देखने को मिलती है.  इस दिन फूल और तोहफे हर दिल की धड़कने बढ़ा देते हैं.


Read: वैलेंटाइन डे स्पेशल


वैलेंटाइन डे का इतिहास


14 फरवरी यानि वैलेंटाइन डे का इतिहास भी प्यार से भरा हुआ है. वैलेंटाइन डे को मूल रुप से संत वैलेंटाइन के नाम पर मनाया जाता है. ऐसा माना जाता है कि वैलेंटाइन-डे मूल रूप से संत वेलेंटाइन के नाम पर रखा गया है. परंतु संत वैलेंटाइन के विषय में ऐतिहासिक तौर पर विभिन्न मत हैं और कुछ भी सटीक जानकारी नहीं है. कहा जाता है कि संत वैलेंटाइन ने अपनी मृत्यु के समय जेलर की नेत्रहीन बेटी जैकोबस को नेत्रदान किया व जैकोबस को एक पत्र लिखा, जिसमें अंत में उन्होंने लिखा था ‘तुम्हारा वैलेंटाइन’. यह दिन था 14 फरवरी, जिसे बाद में इस संत के नाम से मनाया जाने लगा और वैलेंटाइन-डे के बहाने पूरे विश्व में निःस्वार्थ प्रेम का संदेश फैलाया जाता है. संत वैलेंटाइन मानवता से प्रेम करते थे और उन्होंने समाज में आपसी प्रेम को हमेशा बढ़ावा दिया.


valentine dayभारतीय नजरिए से देखें तो वैलेंटाइन वसंत के महीने में आता है. और वसंत प्यार का ही महीना होता है. इस तरह वैलेंटाइन का क्रेज भारत में भी अब बढ़-चढ़ कर बोलता है. आज आप भी जिसे प्यार करते हैं उससे अगर अब तक मन की बात नहीं कही तो कह डालिए हो सकता है आपके गुलाब देकर प्रपोज करने का अंदाज उन्हें भा जाए और आपके प्यार का पैमाना उन्हें मालूम हो जाए.


Read: वैलेंटाइन डे का दूसरा दिन – प्रपोज डे


और यह कोई जरुरी नहीं कि आज का सिर्फ प्रेमी-प्रेमियों के लिए ही बना है. आज का दिन तो प्रेम को दर्शाने के लिए होता है और प्रेम सबके बीच होता है एक मां का उसके बच्चे के प्रति, एक दोस्त का दोस्त के लिए या पति का अपनी पत्नी के लिए. आज के दिन आप जिससे भी प्यार करते हैं या उसके प्यार के लिए उसे धन्यवाद देना चाहते हैं तो उसे अपना वैलेंटाइन बनाइए, गुलाब दीजिए और उसके प्यार के लिए उसे थैंक्स कहिए.


आज हर तरफ हो हल्ला है कि वैलेंटाइन डे हमारी सभ्यता के खिलाफ है लेकिन शायद जो लोग यह बातें कहते हैं उन्हें इस त्यौहार का बाजारी रुप ही दिखता है. वैलेंटाइन का मतलब गुलाब देना, गिफ्ट देना या कुछ और नहीं है, इस त्यौहार का मतलब है समाज में प्यार को बढ़ावा देना. और समाज में एकता और प्रेम को बढ़ावा देना कोई बुरा काम नहीं है. हालांकि युवाओं की कुछेक गलत हरकतों की वजह से इस त्यौहार में अश्लीलता फैलती नजर आती है पर हमें कोशिश करनी चाहिए कि यह त्यौहार अश्लील न बने.


आज के दिन आप समाज में प्रेम को बढ़ावा दें और अपने इस वैलेंटाइन को बेहद खास बनाएं.


करीना ने सैफ को छोड़ वैलेंटाइन डे किसी और के साथ मनाया !!

यह क्या सल्लू ने किसके साथ वैलेंटाइन डे मना डाला !!

प्रेम एक पावन बंधन

| NEXT



Tags:                           

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran